top of page
WhatsApp Image 2023-12-02 at 11.44.07_207f666c.jpg

Become Our Partner

January 20, 2022

📈 Easy Profits Trader में आप दो तरीके से पार्टनर बन सकते हैं । 💰

1. कॉपी ट्रेडिंग पार्टनर
2. एफिलिएट पार्टनर (रेफर एंड अर्न) 


✅ सबसे पहले जान लेते हैं कॉपी ट्रेडिंग क्या है ?

          कॉपी ट्रेडिंग एक ऐसा इनोवेटिव आइडिया है जिसमें कोई भी  व्यक्ति किसी भी एक्सपीरियंस  ट्रेडर के ट्रेड्स रियल टाइम में अपने ट्रेडिंग अकाउंट में कॉपी कर सकते हैं, और इसके लिए आपको किसी भी तरह का नॉलेज या ट्रेडिंग का अनुभव होना जरूरी नहीं है। कॉपी ट्रेडिंग की मदद से आप खुद रियल में कोई भी काम किए बिना जैसे की  ट्रेड लेना, स्टॉप लॉस लगाना, पोजीशन क्लोज करना या प्रॉफिट बुकिंग करना यह सब के बिना भी ट्रेडिंग से पैसे कमा सकते हैं क्योंकि यह सब काम आपके अकाउंट में ऑटोमेटेकली कॉपी हो जाएगा। और इसके लिए कंपनी आपको आपके प्रोफीट्स पे ५०% अमाउंट चार्ज करती हैं।

अधिक जानकारी के लिए आप यूट्यूब पर या गूगल पर कॉपी ट्रेडिंग सर्च कर सकते हैं।

✅ कॉपी ट्रेडिंग की शुरुआत कैसे करें?

            कोई भी व्यक्ति कॉपी ट्रेडिंग की शुरुआत कर सकता है इसके लिए आपको कंपनी में कोई भी इन्वेस्टमेंट करने की जरूरत नहीं है।

              आपके पास बस आपका खुद का डिमैट अकाउंट होना जरूरी है हम आपको आपका नया अकाउंट ( Alice Blue ) बनाने में मदत करेंगे, वही डिमैट अकाउंट एपीआई की मदद से आप Easy Profits Trader के साथ जोड़ सकते हो इसी प्रॉफिट भारत के एक बड़े ब्रोकर जैसे कि एंजेल वन, जीरोधा, एलिस ब्लू,  धन और ऐसे करीबन 20 से अधिक ब्रोकर के साथ काम करती है। (फ़िलहाल हम एलिस ब्लू के साथ काम करेंगे।)

            आपको आपके डिमैट अकाउंट में फंड ऐड करना है। आप कंपनी के प्लान के मुताबिक कम से कम ५० हजार से शुरुवात कर सकते है।, और  ज्यादा फंड के लिए आप १ लाख के गुना मे चाहे जितना फंड इसमे बढ़ा भी सकते है। उसके बाद आपको आपका डिमैट अकाउंट कंपनी के सिस्टम से इंटीग्रेट करना होगा उसके लिए आपको आपका जो भी फंड है उसके १०% अमाउंट डिपॉजिट के तौर पर जमा करना होगा, ये रकम रिफंडेबल रहेगी, और ये किसलिए ली जाती है वह आपको आगे समझा दिया है। जब भी आप सिस्टम से आपका अकाउंट बंद करना चाहोगे तब यह डिपॉजिट आपको वापस मिल जाएगा।

               आपका डिमैट अकाउंट ओपन करने के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते हैं।

✅ Easy Profits Trader से ही क्यों जुड़े ?

               Easy Profits Trader लाइव ट्रेडिंग के दौरान  मुख्य रूप से रिस्क मैनेजमेंट पर  ज्यादातर ध्यान केंद्रित करते हैं,  मार्केट में बहुत सारे ट्रेडर है जो कि बड़े-बड़े प्रॉफिट का दावा करते हैं, और उस प्रॉफिट के चक्कर में रिस्क मैनेजमेंट पर ज्यादा फोकस नहीं कर पाते, जिससे कभी-कभी उन्हें बड़े नुकसान का भी सामना करना पड़ता है, लेकिन हम किसी भी बड़े प्रॉफिट का दावा करके हमारे ग्राहकों को गलत तरीके से प्रभावित नहीं करते हम सिर्फ उनसे एक ही वादा करते हैं की हम आपको निश्चित रूप से किसी भी बचत खाते या एफडी पर मिलने वाले  रिटर्न से बेहतर रिटर्न जरूर बना कर दे सकते है।

                सिर्फ इतना ही नहीं Easy Profits Trader आपके डिमैट अकाउंट मै जमा किए गए फंड की ५०% तक की जिम्मेदारी भी लेते हैं, पूरी मार्केट में आपसे ऐसा वादा कोई नहीं करेगा लेकिन हम ऐसा इसलिए कर सकते हैं क्योंकि, हम रिस्क मैनेजमेंट करना बेहतर तरीके से जानते हैं।

और सब बड़े और सक्सेसफुल ट्रेडर जानते हैं की, रिस्क मैनेजमेंट एक प्रॉफिटेबल ट्रेडिंग के लिए कितना जरूरी साबित होता है। इसीलिए  Easy Profits Trader आपके लिए एक बहुत ही अच्छा समाधान साबित हो सकता है।

✅ कॉपी ट्रेडिंग ज्वाइन करने के लिए क्या करना है?

             आपको हमसे संपर्क करना हैं हम आपको नया डीमैट अकाउंट बनाने मे सहायता करेंगे। फिर आपको आपके अकाउंट मे जो भी प्लान आपने सेलेक्ट किया हैं उसके हिसाब से फंड  जमा कराना है।  जैसा कि पहले आपको बताया गया है आपको आपके डीमैट फंड के १०% अमाउंट डिपॉजिट के तौर पर जमा कराना हैं।

✅ अब इसमें इनकम और कैलकुलेशन कैसा रहेगा ?

             आपको डीमेट में जो भी काम होगा उस पर आपका और कंपनी का 50-50% का शेयरिंग रहेगा  यहां आपको लॉस की फिक्र करने की जरूरत नहीं है क्योंकि ए शेयरिंग प्रॉफिट ओर लॉस दोनों में भी है जब तक आप आपके अकाउंट का 50% अमाउंट तक आप कमाते नही तब तक के लिए कंपनी आपके लॉस में भी शेयरिंग देगी।  जब आप आपके डीमैट फंड के 50% अमाउंट आप कमा लेंगे, उसके बाद कंपनी आपके साथ लॉस शेयरिंग में कोई भी जिम्मेदारी नहीं लेगी या जिम्मेदार नहीं रहेगी।

                  आपका प्रॉफिट हर हफ्ते विड्रोल किया जाएगा।

                मान लीजिए, आपका डीमेट कॉपी ट्रेडिंग के लिए कनेक्ट किया गया है  सोमवार से शुक्रवार जो भी काम किया जाएगा उसका विड्रोल शुक्रवार या शनिवार को कर दिया जाएगा और जो भी प्रॉफिट रहेगा उसमें से 50% अमाउंट आपको सोमवार दोपहर 4:00 बजे तक कंपनी के बताए गए पेमेंट मोड पर करना होगा।

                किसी कारणवश अगर कोई यह पेमेंट नहीं कर पाया तो कंपनी अपना पेमेंट डिपाजिट से कट कर लेगी, और अगला काम जारी रहेगा।

                    अगर कोई व्यक्ति पेमेंट करता ही नहीं है तो उनके अकाउंट पर काम करना बंद कर दिया जाएगा।

यह असुविधा न हो इसीलिए  डिपॉजिट लिया जाता है।

                     यही प्रोसेस हर हफ्ते किया जाता है।

                 और जो लोग खुद डीमेट अकाउंट के साथ कॉफी ट्रेडिंग नहीं कर सकते वह एफिलिएट पार्टनर प्रोग्राम ज्वाइन करके कॉपी ट्रेडिंग के लिये लोगों को रेफर करके भी पैसा कमा सकते है।

✅ एफिलिएट पार्टनर (रेफर एंड अर्न) क्या होता है?

                बहुत से लोग हैं जिनको कॉपी ट्रेडिंग करनी होती है पर उनके पास फंड मौजूद नहीं होते उनको भी सिस्टम से कुछ प्रॉफिट मिल सके इसके लिए एफिलिएट प्रोग्राम बनाया गया है। एफिलिएट एक तरह का रेफर एंड अर्न प्रोग्राम होता है। जहां आपको बस लोगों को रेफर करके लीड जनरेट करना होता है। सभी लोग आपकी रेफर के माध्यम से सिस्टम से कॉपी ट्रेडिंग के लिए जुड़ेंगे, उनके हर हफ्ते के प्रॉफिट पर कंपनी को जो भी हिस्सा मिलता है, उसमें से कंपनी अपने रेफरल को एफिलिएट पार्टनर को कुछ  हिस्सा प्रॉफिट शेयरिंग देती है। इसमें कंपनी आपको १०% से लेकर २५% तक का शेयरिंग देती है। जिसकी मदत से आप आराम से लाखों रुपये महीने का कमा सकते हैं।

 

                बहोत ही आसान है, जितने ज्यादा रेफरल उतनी ज्यादा कमाई।

✅ रेफरल को कितनी शेयरिंग  मिलती है?

♦ अगर आप १ से लेकर ५ अकाउंट तक रेफर करते हैं तो, कंपनी आपको १०% का शेयरिंग देती है।

♦ अगर आप ६ से लेकर १५ अकाउंट तक रेफर करते हैं तो, कंपनी आपको सभी रेफरल पे १५% का  शेयरिंग देती है।

♦ और अगर आप १५ से ज्यादा कितने भी अकाउंट रेफर करते हैं तो कंपनी आपको सभी अकाउंट पर २५% का शेयरिंग देती है।
चाहे वह अकाउंट किसी भी प्लान में एक्टिव हो उससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

✅ रेफर से हम कितना इनकम कमा सकते हैं और क्या उसकी कोई लिमिट हैं?

                 मान लीजिए कि, आपने १० अकाउंट रेफर किए हैं, और वह सभी १० अकाउंट बेसिक फंड पर मतलब ₹५० हजार के फंड पर काम कर रहे हैं। और उस अकाउंट पर कंपनी हफ्ते का अगर ₹२ हजार भी कमा रही है। तो १० अकाउंट का मिलकर कंपनी के पास ₹२० हजार का प्रोफिट आ रहा हैं, उसमें से आपका शेयरिंग १५% के हिसाब से रहेगा, तो आप उससे हफ्ते का ₹३ हजार कमा सकते हैं। मतलब की महीने का ₹ १२,०००/- यह कैलकुलेशन बेसिक एकाउंट्स के ऊपर किया गया कैलकुलेशन है। हो सकता है कभी-कभी हम एक-एक अकाउंट 1 लाख 2 लाख 3 लाख 5 लाख 10 लाख का भी हो। जिससे कंपनी का इनकम और इनडायरेक्टली आपका इनकम भी बढ़ेगा।
आप आपका खुद का भी कैलकुलेशन कर के समझ सकते हैं।

             सबसे अच्छी बात यह है कि, आपको यह इनकम लाइफ टाइम मिल सकती है। जब तक कि वह अकाउंट कंपनी से जुड़ा हुआ है  मतलब काम एक बार करेंगे और उससे बेनिफिट जिंदगी भर ले सकते हैं।

तो बस एक बार काम करो और जब तक आपने रेफर किए हुए व्यक्ति सिस्टम से जुड़े हैं, तब तक के लिए प्रॉफिट कमाते रहो।

✅ इनकम विड्रॉल कैसे कर सकते हैं?

            आपकी इनकम ₹ १,०००/-  के ऊपर होने के बाद आप फोनपे, पेटीएम, यूपीआई, क्यूआर कोड या बैंक ट्रांसफर किसी भी माध्यम से कंपनी से पैसे निकाल सकते हैं। जिसके लिये आप टेलीग्राम की मदद से विड्रॉल रिक्वेस्ट भेज सकते है।

             आपका अमाउंट विड्रोल रिक्वेस्ट करने के बाद १ से २४ घंटे के भीतर प्रोसेस किया जाएगा। और उसके अपडेट भी आपको टेलीग्राम पे मिलते रहेगी।

✅ अब पेमेंट में डिडक्शन जान लेते हैं

जो भी पेमेंट आप विड्रोल करोगे उसमें से १०% टीडीएस  के लिए कट होता है।

✅ कृपया ध्यान दें यह पार्टनरशिप का अवसर सीमित व्यक्तियों के लिए है,  जब तक सॉफ्टवेयर इंटीग्रेशन के लाइसेंस उपलब्ध है सिर्फ तभी तक यह अवसर  उपलब्ध है।🤝

अगर आप Easy Profits Trader के पार्टनर बनना चाहते हैं, तो अधिक जानकारी के लिए, हमें मैसेज कर सकते हैं

हमारे एग्जीक्यूटिव आपसे संपर्क करेंगे और आपको पूरी सहायता करेंगे।

Visit Our Blogs TO Learn More

bottom of page